ख़बर शेयर करें -

कोटद्वार: फर्जी दस्तावेजों से जमीनों की खरीद-फरोख्त के मामले में कोटद्वार पुलिस ने एक महिला समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है, अभियुक्त गणों ने पूछताछ में बताया कि वे लोग फर्जी दस्तावेज तैयार कर नकली भू स्वामी को असली भू स्वामी बनाकर धोखाधड़ी कर जमीन की खरीद फरोख्त करने का काम करते है,

फर्जीवाड़ा करने का तरीकाः-
अनामिका मैठाणी व निधि बिंजोला ने आपराधिक षड़यन्त्र के तहत गजेन्द्र सिंह को फर्जी बद्रीविशाल बनाकर व बद्रीविशाल के फर्जी दस्तावेज बनाकर मृतक बद्रीविशाल के नाम पर दुर्गापुरी मोटाढाक की भूमि को अभियुक्तगणों के द्वारा 23 लाख रूपये में किरण देवी पत्नी स्व0 चिरंजी लाल निवासी गाडीघाट कोटद्वार को विक्रय की गयी व लाभांश कमाने की नियत से अनामिका मैठाणी ने अपनी सगी बहन सुमन मैठाणी पत्नी धनीष मैठाणी निवासी निवासी गोनियाल कालोनी कोटद्वार के नाम पर भी भूमि की रजिस्ट्री की गयी। रजिस्ट्री में भूपेन्द्र के द्वारा गवाह बनकर गजेन्द्र की वद्रीविशाल के रूप में पहचान की गयी तथा जमीन की रजिस्ट्री नाजिया जो कि पेशे से वकील है के द्वारा तैयार की गयी व भूपेन्द्र नाजिया के साथ सहायक के रूप में कार्य करता है तथा कौशर पत्नी मकबुल अहमद निवासी कोटद्वार जनपद पौडी गढवाल अपने पति के साथ जमीन क्रय विक्रय का काम करती है के द्वारा रजिस्ट्री के एवज में धनराशि प्राप्त की गयी।

यह भी पढ़ें 👉  बिग ब्रेकिंग-ऑपरेशन मानसून-2023 के तहत वन एवं वन्यजीवों की सुरक्षा सुनिश्चित किये जाने के उददेश्य से डॉग स्क्वायड गश्त आयोजित की गई

अभियुक्त : 1. कौशर पत्नी मकबुल अहमद, निवासी कोटद्वार, जनपद पौडी गढवाल,

  1. भूपेन्द्र पुत्र गोपीचन्द्र, निवासी-ध्रुवपुर कोटद्वार, जनपद पौडी गढवाल
  2. गजेन्द्र चौधरी पुत्र जगदीश चौधरी, निवासी-ध्रुवपुर कोटद्वार, जनपद पौडी गढवाल
यह भी पढ़ें 👉  Top News: मानसून क़ो लेकर DM ने दिये ये निर्देश..