ख़बर शेयर करें -

नैनीतालअपरजिलाधिकारी अशोक जोशी ने आपदा से क्षतिग्रस्त परिसम्पत्तियों के सम्बन्ध में समस्त विभागों को दैवीय आपदा के मानकों के तहत उनकी क्षतिग्रस्त परिसम्पतियों के आंगणन तैयार कर शीघ्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

जनपद में 12 अगस्त तक कुल – 307 परिवार, को आर्थिक धनराशि रू॰ 14.81 लाख का वितरण किया गया। जिसमें तहसील हल्द्वानी- 114 परिवारोें को धनराशि रू॰ 7.25 लाख, तहसील नैनीताल के 79 परिवारों, को धनराशि रू॰ 3.95 लाख, तहसील कालाढूंगी के 20 परिवारों को धनराशि रू॰ 1.00 लाख,तहसील लालकुआं के 03 परिवारों को धनराशि रू॰ 0.15 लाख तथा तहसील रामनगर के 91 परिवारों को, धनराशि रू॰ 2.23 लाख, 01 आंशिक कच्चा भवन क्षति धनराशि रू0 0.04 लाख, तथा मुर्गी के चूजों की क्षति पर राहत धनराशि 0.07 लाख की धनराशि का वितरण किया गया।

तहसील हल्द्वानी में 121 तथा तहसील नैनीताल में 146 प्रभावितों को राशन किटों तथा 08 परिवारों को बर्तन व अन्य सामग्री दी गई। वर्तमान में हल्द्वानी के 4 परिवार एवं नैनीताल के 25 परिवार राहत शिविरों में निवासरत हैं।

03 पोकलैंड व 04 जेसीबी मशीन लगी है प्रभावित क्षेत्र में

ईई सिंचाई अमित बंसल ने बताया कि प्रभावित क्षेत्रों में सिंचाई विभाग द्वारा 03 पोकलैंड व 04 जेसीबी मशीन से सफाई व चैनलाइज़शन का कार्य जारी है। 02 पोकलैंड मशीन कलसिया नाले में, 01 पोकलैंड व 02 जेसीबी मशीन रकसिया नाले में, 01 जेसीबी मशीन गौला बैराज, 01 जेसीबी मशीन प्रेमपुर लोशानी तथा 01 जेसीबी मशीन से सुशीला तिवारी अस्पताल के पीछे की फीडर कैनाल में सफाई का कार्य जारी है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: 6 तहसीलदारों के ट्रांसफर....

ई ई जल संस्थान रवि शंकर लोशाली ने बताया कि आज शिवपुरी दमवादूँगा, पनचक्की क्षेत्र और हाइडल गेट में पानी की आपूर्ति बहाल हो गई है जिससे क्षेत्रवासियों को काफी राहत मिल रही है। जल स्त्रोत कलसिया गधेरे की मरम्मत का कार्य भी शुरू कर दिया गया है। इस जलस्त्रोत से काठगोदाम क्षेत्र में पानी की आपूर्ति की जाती है। उन्होंने बताया कि जब तक स्त्रोत पूरी तरह पुनः बहाल नहीं हो जाता तब तक टैंकर के माध्यम से लोगों को पानी की आपूर्ति का कार्य जारी है। इसके साथ ही कलसिया, हल्द्वानी व काठगोदाम में पेयजल आपूर्ति बहाल किये जाने हेतु तात्कालिक रूप से पीवीसी पाइपों के माध्यम से आपूर्ति सुचारू की गई। इसके साथ ही ज्योति साह के व्यक्तिगत पेयजल क्षतिग्रस्त हो जाने पर टैंकर के माध्यम से भी पेयजल आपूर्ति की गई।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी ख़बर: N.H क़े विस्तारीकरण को लेकर कांग्रेस की चेतावनी....

लोक निर्माण विभाग द्वारा सूखी नदी में चैनलाइज़शन का कार्य भी शुरू किया जा चुका है। समस्त प्रभावितों को आर्थिक सहायता व राहत किट मिल जाए इसके लिए नगर आयुक्त द्वारा डोर टू डोर निरीक्षण किया गया। उन्होंने बताया कि हल्द्वानी तहसील क्षेत्रअंतर्गत समस्त प्रभावितों को आर्थिक सहायता प्राप्त हो चुकी है।

सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने बताया कि कमल मुनि जी की मंगल अभियान संस्था द्वारा आवश्यक बर्तन एवं थाल सेवा संस्था द्वारा एक महीने की राशन सामग्री प्रशासन की अपील पर उन परिवारों को दी गई जिनके घर पूरी तरह से आपदा के समय कलसिया में समाहित हो गए थे ।

वहीं तहसील कालाढूंगी के आपदा प्रभावित ग्रामो धनपुर, बंदरजुडा, बैलपड़ाव, रतनपुर और तहसील नैनीताल के डॉन परेवा क्षेत्र का सम्बन्धित उपजिलाधिकारी व तहसीलदार द्वारा निरीक्षण किया गया। तहसीलदार नैनीताल मनीषा ने बताया कि प्रभावित परिवारों को पूर्व में अनुमन्य सहायता वितरित की जा चुकी है। कुछ प्रभावित परिवारों को खाद्मान सामग्री भी वितरित की गयी।