ख़बर शेयर करें -

काठगोदाम से नैनीताल 33 किमी की टू लेन सड़क के जल्द बनने की उम्मीद जगी है। जिले में 600 करोड़ लागत की अब तक की सबसे बड़ी योजना का आंगणन केंद्र सरकार को भेजा गया है। चारधाम की तर्ज पर बनाई जाने वाली यह सड़क एनएच की ओर बनाई जाएगी। इसके काम के लिए 24 महीने का समय रखा गया है।

इसका मकसद नैनीताल क्षेत्र में अक्सर लगने वाले जाम की समस्या का समाधान और पर्यटकों को सहूलियत देना है। टू लेन सड़क की स्वीकृति मिल जाने के बाद वन भूमि हस्तांतरण और मुआवजा वितरण प्रक्रिया पूरी होगी। इसके बाद सड़क का काम शुरू होगा। 33 किमी सड़क मार्ग में 23 हेक्टेयर वन भूमि भी आ रही है।

यह भी पढ़ें 👉  लालकुआं: चलेगा बुल्डोजर, 7 दिन में अतिक्रमण हटाने का नोटिस....

ऐसी बनेगी सड़क
अमूमन सड़की चौड़ाई सात मीटर होती है लेकिन टू लेन सड़क की कुल चौड़ाई 12 मीटर रहेगी। 10 मीटर पक्का और शेष दो मीटर नाली पटरी का निर्माण होगा। सड़क के दोनों ओर डेढ़-डेढ़ मीटर के पक्के सोल्डर बनेंगे। दुर्घटना से बचने के लिए क्रेश बैरियर के अलावा साइनेज रोड, सफेद पट्टी का निर्माण होगा।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर: कांग्रेस क़ो आगे बढ़ाने का काम करेंगे:दीपक बलूटिया....

अरुण कुमार पांडे (अधीक्षण अभियंता एनएच) ने बताया कि चार धाम के बाद नैनीताल जिले का यह पहला बड़ा प्रोजक्ट है जिसे एनएच बना रहा है। सड़क की डीपीआर स्वीकृति के लिए केंद्र को भेज दी गई है। सड़क चार धाम की तर्ज पर बनाई जाएगी।